सवाल…???…Sawaal…???

सवाल…

नजरें मिली जब उनसे, दिखे पेचीदे सवाल क्यूँ है ?
कुछ मिले जवाबात, फिर हुए खड़े नये सवाल क्यूँ है ?

उलझने चले पैहम साथ साथ जैसी हमकदम मेरी,
ढूँढते ता हद्द ए नज़र दिखे फिर पुराने सवाल, क्यूँ है ?

ता उम्र मिले राह ए दहर सवालातों के कारवाँ,
गुजरे जवाबातों के काफ़िले मुख़्तसर किये सवाल… क्यूँ है ?

बनाये जब दुश्मन, ना उठाये किसीने बवाल यहाँ,
मिले जो हमनफस, खड़े हुए लाखों नये सवाल क्यूँ है ?

उजड़ा पड़ा मकान ए दिल सुनसान हवेली सा याँ,
गूँजते सन्नाटे दिये दस्तक दर पे पूछें सवाल, क्यूँ है ?

इब्तिदा ए ज़ीस्त से अंजाम ए जिंदगी तक दरियाफ़्त किये,
जिन के ना हो जवाब फिर क्यूँ करें सवाल क्यूँ है ?

देर हो चुकी, आये हो मज़ार पर अब तुम साक़िया,
नक़ाब ए कफ़न लिये सोये, कोई न हमें पूछें सवाल… क्यूँ है ?

डॉ नम्रता कुलकर्णी
बेंगलुरु
२९/०६/१७

राह ए दहर path of life
दरियाफ्त करना to ask इब्तिदा ए ज़ीस्त begining of life

Advertisements

O! Lord Of The Lords…🙏🙏🙏

May Bappa bless us all…🙏🙏🙏

O! Lord of the Lords…
With a trunk so crooked,
And a stomach so fat,
With ears so large,
And four arms just like that.

O! Lord of the Lords…
With a single tusk broken,
Holding a noose and prod,
Your brilliance shines wide,
Like a million Suns O! God

O! Lord of the Lords…
With a half moon adorning,
On forehead a chandan smear,
A janewu though you wear,
The pitambar makes you a dear.

O! Lord of the Lords…
With a mouse you travel,
All over the milky way,
With your blessings O! Lord,
All the troubles run far away.

O! Lord of the Lords…
As you travel far and wide,
Come along to my house,
Will offer you modak,
And give rest to your mouse.

O! Lord of the Lords…
With the elephant face,
And a smile that’s fair,
With your name we invoke,
Shower Happiness n show you care.

NK

🙏🏼🌷🙏🏼🌷🙏🏼🌷

चिट्ठी ले आयी इक संदेशा… Chitthi Le Aayi Ik Sandesa…

चिट्ठी ले आयी इक संदेशा क़िताब में,
आपने हाल ए दिल सुनाया जवाब में

आते हो मिलने रोज़ क्यूँ ख़्वाब में,
दिखा न चेहरा जिसे छुपाया हिज़ाब में

हो गये घायल जब से देखा बे नक़ाब तुम्हें,
दिखने लगा अब मुझे दाग़ माहताब में

दिल के बदले देना आता है दिल हमें,
अब कैसे रखूँ दिल ए मुज़्तर को हिसाब में

हर सहर आये जो टहलने इस फ़लक,
किसे दिलचस्पी रहेगी उस आफ़ताब में

जाम ए सहबा पीते न आये ख़ुमारी,
साक़ीया तूने क्या मिलाया शराब में

बक़श दिया तुम्हे ख़ुदा ने जो सवाब में,
आप ने क्यूँ छुपाया उसे नक़ाब में

डॉ नम्रता कुलकर्णी
बेंगलूरु
२३/०६/१७

दिल ए मुज़्तर restless heart
जाम ए सहबा glass of wine
सवाब gift

क्यूँ आये…? Kyun Aaye…?

क्यूँ आये…?

नींद से बोझल आँखों को जगाने आये,
ये शफ़क़ हो पैकर आब ए आईने आये

पलकों में जिन ख़्वाबों को छुपाये रखे थे,
रोशनी बन आशना उन्हें सजाने आये

ज़ुस्तजू में निकले थे खाना बा दोष हम,
किरनों के काफ़िले डोली उठाने आये

दस्तक़ देती सुर्ख़ लाली, दरवाजे पर,
हमने सोचा ज़नाब हमसे मिलने आये

दूर उफ़क में आफ़ताब ने ली अंगड़ाई,
इतने सवेरे तुम मुझे क्यूँ जगाने आये ?

दरीचे के चिलमन से नज़रें चुराकर यूँ,
ये उजाले मुझसे मिलने के बहाने आये

बादलों की चादर ओढ़े आसमान घने,
अब्र के झरोखों से रोशनी पिलाने आये

चाँद के रुख़सार पर कजरे के दाग़ निखरे,
सूख गये वो अश्क़ फिर क्यूँ रुलाने आये ?

चिराग ए रोशनी में, चाँदनी चुनर ओढ़े,
गो बहुत देर हो चुकी जब बुलाने आये

शफ़क, धनुक, माहताब, बिजली, घटाएं,
ये सब आज हमें क्या सुनाने आये ?

रोज़ ए अब्र ओ शब ए माहताब आये,
ये शफ़क़ हमें सुबह क्यूँ सताने आये ?

तेरे साँसों का कफ़न ओढ़े साकिया,
सोये है मज़ार पर, फिर क्यूँ उठाने आये ?

डॉ नम्रता कुलकर्णी
बेंगलूरु
२०/०६/१७

Go With The Flow…

Go with the flow…

Be like a river in the game of life,
Go with the flow in face of strife.

Don’t be rigid like the mighty mountains,
Adjust your plans like the flow of the fountain.

Fight or flight is a natural response,
Adapt to the challenge ‘n give life a chance.

Difficulties will wait for you at every junction,
Adopt new strategies and flow with your emotion.

Apply the virtue of flexibility to circumstances,
Let us live life and give her more chances.

Be like a river flowing through all adversities,
Let the music of laughter chase away all uncertainties.

We got only this life that’s for sure,
How you live this life finally the choice is yours.

NK
30/07/18

Lost At Sea…

Lost at sea…

I’m a lonely torn lost ship,
In the vast cosmic ocean.

My sails barely holding on,
I’m yearning for a little affection

Shine a light for me please,
And show me some emotion.

I need an anchor in my life,
To control my eternal rolling motion.

I’m tumbling in the storm,
Sinking in the waves of disillusion.

Be my rock ‘n hold me tight,
Give a shoulder to cry ‘n a wee attention.

I’m a lost soul in search of,
A Lighthouse on shores of the ocean.

Be my love, be my friend,
And my soulmate is my notion.

Be my guiding light when I come,
As I say bon voyage on journey of life’s ocean.

NK
26/08/18